उपेन यादव ने एसएसओ दलवीर सिंह पर आरोप लगा , सस्पेंड करने की मांग की

News Bureau
2 Min Read

उपेन यादव ने एसएसओ दलवीर सिंह पर आरोप लगा , सस्पेंड करने की मांग की

अजमेर के आरपीएससी पर राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष यादव के नेतृत्व में पेपर लीक मामले की जांच एवं कई भर्तियों के रिजल्ट को लेकर प्रदर्शन करना था , उपेन यादव का दावा है कि उन्होंने पहले से प्रशासन से इस प्रदर्शन के लिए अनुमति ले ली थी। लेकिन इसके बाद पुलिस ने लाठी चार्ज करके बेरोजगार युवाओं को भगाने का प्रयास किया।

Images

लेकिन सिविल लाइंस एसएसओ दलबीर सिंह फौजदार ने कहा कि आरपीएससी के आसपास धारा 144 लगी हुई होने की वजह से पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया है एवं उपेन यादव व उनके एक साथी को शांति भग के आरोप में गिरफ्तार किया।

वहीं पुलिस द्वारा उपेन यादव को छोड़ने के बाद उपेन यादव ने एसएसओ दलवीर सिंह फौजदार पर आरोप लगाए हैं कि थाने में ले जाकर उनकी बाल एवं दांडी खींची गई। अगर ऐसे सुकून 3 दिन में सस्पेंड नहीं किया तो वे आरपीएससी के आगे आमरण अनशन पर बैठ जाएंगे।

उपेन यादव ने कहा कि जब तक बेरोजगार युवाओं के साथ अन्याय होता रहेगा , तब तक वे सड़कों पर लड़ते रहेंगे । पेपर लीक मामले की सरकार अगर जांच करने में असक्षम है तो सरकार सीबीआई को जांच क्यों नहीं सौंपती ?

यह भी पढ़ें बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री कौन हैं ? , क्या धीरेंद्र शास्त्री के पास हैं चमत्कार

राजस्थान सरकार बेरोजगारों के साथ ऐसे ही अन्याय करती रहेगी तो बेरोजगार युवा‌ चुनाव में अपने वोट से सरकार को जवाब देंगे।

बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव पुलिस अधिकारियों से मिलकर एसएसओ के खिलाफ ज्ञापन सोंपेंगे एवं एसएचओ दलवीर सिंह फौजदार को सस्पेंड करने की मांग करेंगे।

सोशल मीडिया पर उपेन यादव को गिरफ्तार करते समय गाड़ी में बैठाते समय का भी एक वीडियो वायरल हुआ है .  जिसमें पुलिस अधिकारी उपेन यादव को धक्का देकर अभद्रता करता हुआ गाड़ी में बिठाता है।

.

Share This Article
Follow:
News Reporter Team
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha