चाची व भतीजे के बीच अवैध संबंध : चाचा ने भतीजे को मारा

बीकानेर के श्री डूंगरगढ़ चौंकाने वाला खुलासा हुआ है दरअसल प्रेम प्रसंग की वजह से एक ही परिवार के 2......

- Advertisement -

बीकानेर के श्री डूंगरगढ़ चौंकाने वाला खुलासा हुआ है दरअसल प्रेम प्रसंग की वजह से एक ही परिवार के 2 लोगों की जान चली गई है,  वहीं एक व्यक्ति को आरोपी बना दिया गया है ‌‌‌‌ । आपको बता दें कि यह घटना श्री डूंगरगढ़ की है जहां पर चाची व भतीजे के बीच अवैध संबंध थे , वहीं इस बात की भनक चाचा को लगने के बाद चाचा ने भतीजे को अपने घर पर बुलाकर मार दिया है और इसके बाद भतीजे को ऊंट गाड़ी पर डाल कर दूर सड़क के किनारे फेंक दिया ।

शव रविवार सुबह श्री डूंगरगढ़ मार्ग पर पड़ा मिला था , एवं युवक की पहचान उसके पास मिले आधार कार्ड से हुई । युवक की पहचान कुशाल मेघवाल के रूप में हुई जो कि लखासर का निवासी है एवं 34 वर्षीय आयु है।

इसके बाद शव परिजनों को मिलने पर परिजनों ने आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने के लिए प्रदर्शन किया एवं इस प्रदर्शन में युवक का चाचा उदाराम मेघवाल भी शामिल रहा । एवं लगातार पुलिस से आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग करता रहा ‌‌‌‌, पुलिस को इस घटना क्रम में संदेह था कि किसी परिवार के सदस्य का हाथ शामिल हो सकता है। एवं पुलिस प्रशासन ने जांच में उदाराम मेघवाल से पुछताछ की , पहले तो उदाराम ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया , लेकिन बाद में गहन पूछताछ करने पर उसने हत्या करना कबूल किया और सारे घटनाक्रम के बारे में पुलिस को अवगत करवाया।

वही इधर उदाराम मेघवाल के पत्नी एवं युवक कुशाल की चाची गौरा देवी भी सदमे में आ गई और सोमवार सुबह 5 :30 बजे ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी ।

युवक की चाची गौरादेवी के अवैध संबंध की कहानी लोगों के बीच आने से परेशान हो गई ।  ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी । ट्रेन चालक ने ट्रेन को रोकने का प्रयास किया लेकिन इससे पहले वह आगे कूद चुकी थी और कुछ देर बाद युवती की मौत हो गई।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha