ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत से पाकिस्तान और नेपाल की स्थिति अच्छी

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत से पाकिस्तान और नेपाल की स्थिति अच्छी

दुनिया भर में भूख एवं कुपोषण की स्थिति की रिपोर्ट बनाने वाली ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट जारी होने के बाद भारत सरकार ने इस पर नाराजगी जताई है।

दरअसल इस रिपोर्ट में भारत की स्थिति 121 देशों में से एक सौ सातवें पायदान पर है।

भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान , नेपाल , बांग्लादेश एवं श्रीलंका जैसे देश भी भारत से अच्छी स्थिति में बताए जा रहे है।

इस रिपोर्ट में दक्षिण एशिया का सबसे बेहतरीन देश श्रीलंका को दर्शाया गया है ‍‍, रिपोर्ट में श्रीलंका को 64 वें पायदान पर रखा गया है।

इस रिपोर्ट की जारी होने के बाद भारत के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि भारत की छवि को खराब करने के लिए गलत सूचनाएं जारी की गई है ।

ग्लोबल हंगर इंडेक्स खासकर इन चार मुल्यो कुपोषण , शिशुओं में भयंकर कुपोषण एवं बच्चों के विकास में रुकावट एवं मृत्यु बाल दर की रिपोर्ट तैयार की जाती है।

एवं भारत के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने कहा कि इंटेक्स कोमा में छात्रों में से 3 तरीके केवल बच्चों के स्वास्थ्य से संबंधित है ऐसे में पूरी जनसंख्या का प्रतिनिधित्व नहीं हो सकता।

क्या है ग्लोबल हंगर इंडेक्स 

ग्लोबल हंगर इंडेक्स वैश्विक एवं राष्ट्रीय स्तर पर भूख को व्यापक रूप से मापने का एक जरिया है , ग्लोबल हंगर इंडेक्स यानी कि जीएसआई का कुल स्कोर 100 पॉइंट होता है , एवं इनमें से अगर किसी भी देश का स्कोर जीरो है तो उनकी स्थिति अच्छी है और अगर किसी देश का स्तर 100 है तो उनकी स्थिति बेहद खराब है ‌‌। बात करते हैं कि ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत का स्कोर कितना है ? जीएसआई रिपोर्ट में भारत का स्कोर 29.1 हैं। बेहद गंभीर श्रेणी में आता है।

यह भी पढ़ें PM Kisan Samman Nidhi Yojna : पीएम मोदी 17 अक्टूबर को किसानों के खाते में भेजेंगे 12वीं किस्त

दुनिया में 17 ऐसे देश भी है जिनकी स्थिति बेहद अच्छी मानी गई है एवं उनका इनका स्कोर 5 से भी कम है। जिसमें भारत का पड़ोसी चीन भी शामिल है , चीन के अलावा कुवैत , बेलारूस,  सिली जैसे कई देश शामिल हैं।

हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें Really Bharat पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट रियली भारत पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

Share this post:

Related Posts