Bhimrao Ambedkar ke Vichar : भीमराव अंबेडकर के विचार एवं अनसुने तथ्य

Bhimrao Ambedkar ke Vichar : भीमराव अंबेडकर के विचार एवं अनसुने तथ्य

Bhimrao Ambedkar quotes in Hindi , Dr Babasaheb bheemrav Ambedkar quotes Hindi 2023

भीमराव अंबेडकर के बारे में कुछ जानकारी , भीमराव अंबेडकर के विचार , bheemrav Ambedkar ke bare mein kuchh jankari , bheemrav Ambedkar ke suvichar , bheemrav Ambedkar ki samajik vichar , Bhimrao ambedkar ke samajik vichar

डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के जन्म दिवस के अवसर पर हर वर्ष 14 अप्रैल को उनकी जयंती मनाई जाती है एवं भीमराव अंबेडकर बाबा साहेब के नाम से भी जाना जाता है ।  भीमराव अंबेडकर ( Bhimrao Ambedkar) की जयंती को भारत में समानता दिवस के रूप में मनाया जाता है एवं इसके अलावा और ब्रिटिश कोलंबिया एवं कनाडा में अंबेडकर समानता दिवस के रूप में भीमराव अंबेडकर की जयंती को मनाया जाता है।

भीमराव अंबेडकर का जन्म मध्यप्रदेश के महू में 14 अप्रैल 1891 को हुआ था , भीमराव अंबेडकर न्याय विद ‍, अर्थशास्त्री एवं समाज सुधारक रुप में जाना जाता हैं ‍, भीमराव अंबेडकर स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री भी रहे थे  ‌‌।

यह भी पढ़ें डॉ भीमराव अम्बेडकर की मृत्यु कैसे हुई ‍, भीमराव अम्बेडकर को किसने मारा ?

Bhimrao Ambedkar ke Vichar : भीमराव अंबेडकर के विचार

  • मुझे वह धर्म हमेशा पसंद है जिस धर्म में स्वतंत्रता व समानता सिखाई जाती है ।
  • मैं एक समुदाय या वर्ग की विकास कार्य या प्रगति को इस डिग्री से मापता हूं जो महिलाओं ने हासिल की है ‌‌।
  • बुद्धि का विकास मनुष्य के अस्तित्व का अंतिम लक्षण होना चाहिए।
  • समानता एक काल्पनिक हो सकती है लेकिन फिर भी इसे एक गवर्निंग सिद्धांत के रुप में स्वीकार करना चाहिए।
  • जो व्यक्ति हमेशा अपनी मौत को याद रखता है , वह हमेशा अच्छे कार्य में लगा रहता है वह हमेशा अच्छे कार्य ही करता रहता हैं।
  • हमेशा अपने भाग्य के भरोसे रहने की बजाय अपनी मजबूती पर विश्वास करें।
  • कानून एवं व्यवस्था राजनीतिक शरीर की दवाई हैं , जब भी राजनीतिक शरीर बीमार पड़े तब दवा जरूर दी जानी चाहिए।
  • यदि मुझे लगा कि संविधान का दुरुपयोग किया जा रहा हैं, तो मैं इसे सबसे पहले जलाऊंगा ।

हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें Really Bharat पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट रियली भारत पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

Related Posts