सावधान: सरकार द्वारा बांटी गई खाद्य सामग्री में मिलावट, अब फूड पैकेट वापिस मंगवाए

सावधान: सरकार द्वारा बांटी गई खाद्य सामग्री में मिलावट, अब फूड पैकेट वापिस मंगवाए राजस्थान के गहलोत सरकार द्वारा चुनावी......

- Advertisement -

सावधान: सरकार द्वारा बांटी गई खाद्य सामग्री में मिलावट, अब फूड पैकेट वापिस मंगवाए 

राजस्थान के गहलोत सरकार द्वारा चुनावी साल में जनता को लुभाने के लिए फ्री में फूड पैकेट बांटने के लिए अन्नपूर्णा योजना की शुरुआत की गई, लेकिन इस योजना में बांटे गए मसालों में मिलावट पाई गई है एवं इसके बाद अब प्रशासन ने सप्लाई के लिए दी गई सामग्री को वापस मंगवा दिया।

बता दें कि बाड़मेर में प्रशासन को खाद्य सामग्री में मिलावट की शिकायत मिलने के बाद जब प्रशासन ने सैंपल लेकर रिपोर्ट के लिए भेजे तो घटिया क्वालिटी की खाद्य सामग्री सप्लाई में पाई गई।

जोधपुर लैब में सैंपल की जांच करने के बाद जांच में पाया गया कि खाद्य सामग्री सब स्टैंडर्ड लेवल से जुड़ा हुआ है इसलिए आमजन के लिए खाने योग्य नहीं है। एवं इसके बाद आनंद आनंद में प्रशासन ने सप्लाई के लिए भेजी गई खाद्य सामग्री को वापस मंगवा दिया एवं ठेकेदार को पाबंद करते हुए नए गुणवत्ता युक्त फूड पैकेट वितरण करने के निर्देश दिए।

बाड़मेर के जिला कलेक्टर अरुण कुमार पुरोहित ने बताया कि खाद्य सामग्री की जांच में सब स्टैंडर्ड लेवल होने की रिपोर्ट आई है एवं 24 या 25 अगस्त से वापस सप्लाई शुरू कर दी जाएगी।

इधर प्रदेश भर में बांटी गई फूड पैकेट की खाद्य सामग्री को लेकर सोशल मीडिया पर कई वीडियो एवं फोटो वायरल हो रहे हैं जिसमें घटिया क्वालिटी की खाद्य सामग्री बताई जा रही है।

बता दे कि 21 अगस्त को आई इस रिपोर्ट के 7 दिन पहले सैंपल भेजे गए थे, लेकिन 15 अगस्त के बाद में इस योजना में लाखों लोगों तक यह खाद्य सामग्री पहुंच चुकी है। ऐसे में इस घटिया क्वालिटी की खाद्य सामग्री खाने से लाखों लोगों को नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़ें Rajasthan BSTC Admit Card kaise Dekhe 2023 : बीएसटीसी के एडमिट कार्ड जारी, कैसे निकाले एडमिट कार्ड

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निशुल्क अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना की शुरुआत 15 अगस्त से की थी।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha