Gujarat election ABP C voter Opinion Poll : गुजरात में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ी , आसान नहीं है गुजरात फतेह

Gujarat election ABP C voter Opinion Poll : गुजरात में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ी , आसान नहीं है गुजरात फतेह......

- Advertisement -

Gujarat election ABP C voter Opinion Poll : गुजरात में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ी , आसान नहीं है गुजरात फतेह

गुजरात विधानसभा को लेकर सभी पार्टियां जनता के बीच जाकर वोटों की अपील कर रही है एवं अपनी और रिझाने की कोशिश में जुटी हुई है , गुजरात के विधानसभा चुनाव अगले महीने होने हैं , एवं गुजरात के विधानसभा चुनाव दो चरणों में होंगे।

लेकिन गुजरात में पिछले 27 साल से सत्ता में बैठी बीजेपी के लिए इस बार के विधानसभा चुनाव काफी मुश्किल भरे होंगे , एबीपी सी वोटर के ओपिनियन पोल में एक सर्वे किया गया जिसमें बीजेपी के कुछ दिग्गजों के टिकट काटने को लेकर लोगों से सवाल पूछे गए ।

एबीपी के सी वोटर ओपिनियन पोल में 48% लोगों का मानना है कि दिग्गज नेताओं का टिकट काटने से बीजेपी को भारी नुकसान होगा , वही दसवीं फीसदी का मानना है कि बीजेपी के दिग्गज नेताओं की टिकट काटने से जनता पर कोई असर नहीं पड़ेगा , वहीं 42 प्रतिशत लोगों का मानना है कि बीजेपी के दिग्गज नेताओं के टिकट काटने से बीजेपी को फायदा होगा।

आम आदमी पार्टी भी प्रतिदिन गुजरात विधानसभा चुनाव के वोटिंग से पहले अपना वर्चस्व बढा रही है , आम आदमी पार्टी का बढ़ता कद बीजेपी एवं कांग्रेस दोनों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

एबीपी सी वोटर ओपिनियन पोल के मुताबिक 37 फीसदी मुसलमानों के वोट आम आदमी पार्टी के पक्ष में है  , वही 39 फीसदी मुसलमान कांग्रेस पर अपना भरोसा बनाए हुए है , तो 21 प्रतिशत मुसलमान वोटरों का बीजेपी पर भरोसा है।

यह भी पढ़ें गुजरात विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी किया घोषणापत्र

वही आदिवासियों के 22 फ़ीसदी वोट आम आदमी पार्टी के खाते में जा रहे हैं , बीजेपी को 39 फीसदी एवं कांग्रेस को 33 फीसदी आदिवासियों का समर्थन मिल रहा है। सवर्ण जातियों की बात की जाए तो 55 प्रतिशत बीजेपी के साथ 17 फ़ीसदी आम आदमी पार्टी एवं 23 प्रतिशत कांग्रेस के साथ है।

वही दलित वोट की बात की जाए तो 37 प्रतिशत वोट बैंक बीजेपी के पक्ष में हैं, आम आदमी पार्टी के साथ 24 फीसदी दलित वोट बैंक है , हम कांग्रेस के साथ 34% दलित वोट बैंक का भरोसा है।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha