निर्मल चौधरी बने RU के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा

निर्मल चौधरी बने RU के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी ने करीब 1300......

- Advertisement -

निर्मल चौधरी बने RU के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा

निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी ने करीब 1300 वोटों से जीत दर्ज की है एवं उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी प्रत्याशी निहारिका जोरवाल को पछाड़ दिया।

निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी बने RU के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा, राजस्थान विश्वविद्यालय में लगातार तीसरी बार निर्दलीय प्रत्याशियों ने अपना परचम लहराया है।

निर्मल चौधरी बने ru के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा
निर्मल चौधरी बने ru के अध्यक्ष: लगातार 3 बार निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा

राजस्थान विश्वविद्यालय के निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी ने इस बार जीत कर सबको चौंका दिया है क्योंकि निर्मल चौधरी राजस्थान विश्वविद्यालय से लगातार तीसरे निर्दलीय प्रत्याशी जीतने का मुकाम हासिल किया है।

निर्मल चौधरी की इस जीत ने सबको चौंका दिया है और अब शायद इस जीत के बाद कोई भी उम्मीदवार एनएसयूआई या एबीवीपी से टिकट लेने की दावेदारी करें क्योंकि लगातार तीसरी बार राजस्थान विश्वविद्यालय की सत्ता पर निर्दलीय प्रत्याशी का कब्जा हो गया है।

जिसके पीछे की वजह है संघर्षशील छात्र नेताओं का दोनों बड़े संगठनों द्वारा टिकट नहीं देना और इसका खामियाजा लगातार तीसरी बार दोनों संगठन भुगत रहे हैं।

निर्मल चौधरी ने अपनी जीत श्रेय संपूर्ण कार्यकर्ताओं को दिया तथा कहा कि मेरे कार्यकर्ता ही मेरी जीत के सूत्रधार है। मेरी यह जीत ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले छात्र छात्राओं को समर्पित है।

निर्मल चौधरी ने अपनी जीत के लिए जितना संघर्ष धरातल पर छात्रों के बीच किया है उतना ही सोशल मीडिया के माध्यम से भी छात्र छात्राओं को रिझाने का भरकस प्रयास किया है।

निर्मल चौधरी की यह जीत राजस्थान के दोनों बड़े छात्र संगठनों एबीवीपी तथा एनएसयूआई के सामने मुसीबतें खड़ी कर गई है और साथ ही 1 सीख भी इन दोनों संगठनों को दे गई है।

निर्मल चौधरी पिछले 4 साल से राजस्थान छात्र संघ चुनाव लड़ने को लेकर छात्रों के बीच सक्रिय थे तथा हर जाति वर्ग से जुड़े छात्रों के कार्य करवाए थे।

जिसकी बदौलत ही निर्मल चौधरी ने राजस्थान विश्वविद्यालय में अपना झंडा बुलंद किया है।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha