प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन का निधन

News Bureau
3 Min Read

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन का निधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन का 30 दिसंबर की सुबह निधन हो गया , प्रधानमंत्री की मां हीराबेन ने 100 साल की उम्र में अहमदाबाद के यूएन मेहता अस्पताल में अंतिम सांस ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी 28 दिसंबर को अपनी मां से मिलने के लिए अस्पताल पहुंचे थे यहां पर करीब 80 मिनट तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अस्पताल में रुके थे एवं इस दौरान उन्होंने डॉक्टरों से बातचीत करके मां की तबीयत के बारे में डॉक्टर से जानकारी ली , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां 27 दिसंबर से अस्पताल में भर्ती थी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 दिसंबर को सुबह ट्वीट करके अपनी मां के निधन की जानकारी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी मां के 100 वें जन्म दिवस पर 18 जून 2022 को मिलने भी पहुंचे थे ‌‌।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन ने गुजरात के यू एन मेहता इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च सेंटर में सुबह तड़के 3:30 बजे अंतिम सांस ली थी ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थोड़ी देर में अमिता पास पहुंचने वाले हैं एवं वह गांधीनगर के गांव में अपने भाई पंकज मोदी के घर जाएंगे जहां पर मां की पार्थिव देह रखी गई है।

सुबह 8:30 पर अंतिम यात्रा शुरू होगी , सेक्टर 30 स्थित श्मशान घाट पहुंचेंगी। यहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें लॉरेंस बिश्नोई के मोबाइल नंबर …… चौंकाने वाली जानकारी सामने आई

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने प्रधानमंत्री की मां हीराबेन के निधन पर दुख जताया हैं , गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि मां एक व्यक्ति के जीवन में पहली मित्र एवं गुरु होती है जिसे खोने का दुगनी संदेश संसार का सबसे बड़ा दुख है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां के निधन पर संवेदना प्रकट की है।

यह भी पढ़ें हनुमान बेनीवाल ने हरीश पर किया पलटवार : बोले 2018 में मेरे आगे हाथ जोड़े थे ….

.

Share This Article
Follow:
News Reporter Team
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha