अजित पवार पांचवीं बार बने उपमुख्यमंत्री : 8 विधायक बने मंत्री

अजित पवार पांचवीं बार बने उपमुख्यमंत्री : 8 विधायक बने मंत्री एनसीपी नेता अजित पवार बने उपमुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे बोले......

- Advertisement -

अजित पवार पांचवीं बार बने उपमुख्यमंत्री : 8 विधायक बने मंत्री 

  • एनसीपी नेता अजित पवार बने उपमुख्यमंत्री
  • एकनाथ शिंदे बोले अगले चुनाव में ज्यादा सीटें जीतेंगे
  • एनसीपी के 8 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली

महाराष्ट्र में रविवार को एनसीपी के नेता अजित पवार ने एकनाथ शिंदे की सरकार में उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

अजित पवार ने 13 साल में 5 बार डिप्टी सीएम के पद पर शपथ ली है , अजित पवार के साथ 8 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली ।

जानकारी के मुताबिक अजीत पवार एवं उनके समर्थक विधायक शरद पवार के विपक्षी बैठक में राहुल गांधी का सहयोग करने के फैसले से नाराज थे। बिहार के पटना में नीतीश कुमार ने इस मीटिंग को आयोजित करवाया था।

हे मामा जी पवार के उप मुख्यमंत्री बनने के बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि हम विधानसभा और लोकसभा चुनाव में पहले से ज्यादा सीटें जीतेंगे।

अजित पवार के पार्टी छोड़ने के बाद शरद पवार मीडिया के सामने आए एवं उन्होंने कहा कि यह पार्टी मैंने बनाई है एवं पार्टी के कार्यकर्ताओं पर मुझे पूरा विश्वास है 2024 का चुनाव विपक्ष के साथ मिलकर लड़ा जाएगा।

यह भी पढ़ें ओवैसी जयपुर में करेंगे सभा : प्रदेश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी में एआईएमआईएम

महाराष्ट्र में वर्तमान की स्थिति की बात की जाए तो कुल 288 विधानसभा सीटें हैं जिनमें से एक विधानसभा सीट खाली है , 106 विधानसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैं , 44 विधानसभा सीटों पर शिवसेना के विधायक एवं 12 विधानसभा सीटों पर उद्धव ठाकरे की शिवसेना के विधायक हैं। वही शरद पवार की एनसीपी के 44 विधायक हैं अजित पवार की एनसीपी के 9 विधायक हैं कांग्रेस के 44 विधायक हैं  एवं 28 अन्य विधायक है।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha