सौरमंडल के ग्रहों का नाम कैसे याद करें ? ग्रहों के नाम याद करने की ट्रिक

News Bureau
3 Min Read

सौरमंडल के ग्रहों का नाम कैसे याद करें ? ग्रहों के नाम याद करने की ट्रिक

सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले विभिन्न ग्रह , शुद्र ग्रह , धूमकेतु एवं उल्का पिंडों के समूह को सौरमंडल कहते हैं, सौरमंडल में कौन खगोलीय पिंडों को शामिल किया गया है जो तीन शर्तों को पूर्ण करते हो , पहली शर्त है जो सूर्य के चारों ओर परिक्रमा करता हो एवं ग्रह में शामिल होने के लिए दूसरी शर्त है कि उसमें पर्याप्त गुरुत्वाकर्षण बल हो जिससे गोल स्वरुप ग्रहण कर सकें। ग्रहों की सूची में शामिल होने के लिए तीसरी शर्त है कि उनके आसपास का क्षेत्र साफ हो यानी कि उनके आसपास खगोलीय पिंडों की कोई भीड़ भाड़ नहीं होनी चाहिए।

सौरमंडल में परंपरागत ग्रहों की संख्या 9 से घटकर 8 रह गई है क्योंकि यम बौने ग्रह की श्रेणी में रखा गया है।

सौरमंडल के आठ ग्रहों को कैसे याद किया जाएगा ?

जिस प्रकार से हम जानते हैं वार की संख्या सात होती है तो हमें उसमें से रवि एवं सोम को छोड़कर बाकी सभी वार के नाम याद कर लेना हैं, मंगल , बुध , गुरु (गुरु को बृहस्पति भी कहते हैं ) , शुक्र , शनि एवं इसके बाद पीछे बचे 3 ग्रह अरुण , वरुण व पृथ्वी हैं।

शायद अब आपको सौरमंडल के आठ ग्रहों के नाम याद हो गए हैं।

यह भी पढ़ें मुख्यमंत्री बनने के लिए क्या करना पड़ता हैं ? Chief minister Kaise bante hai

बुध ग्रह सूर्य का सबसे नजदीकी ग्रह है , यह ग्रह सबसे छोटा एवं हल्का है ।

शुक्र पृथ्वी का सबसे नजदीक ग्रह हैं , यह सबसे चमकीला एवं गर्म ग्रह हैं।

बृहस्पति ग्रह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह हैं , इसे अपनी धुरी पर चक्कर लगाने में 10 घंटे का समय लगता है , जबकि इसे सूर्य की परिक्रमा करने में 12 साल लगते हैं , मंगल ग्रह को लाल ग्रह भी कहते हैं।

शनि ग्रह आकार में दूसरा सबसे बड़ा ग्रह हैं , अरुण ग्रह आकार में तीसरा सबसे बड़ा ग्रह है , वरुण ग्रह सौरमंडल में सबसे दूर का ग्रह हैं एवं पृथ्वी 5 वां सबसे बड़ा ग्रह हैं यह सौरमंडल का एकमात्र ऐसा ग्रह हैं , जिस पर जीवन बसता हैं।

सूर्य से दूरी के हिसाब से क्रम जानने का प्रयास करते हैं , सूर्य के सबसे नजदीक ग्रह बुध है एवं इसके बाद शुक्र , इसके बाद पृथ्वी , इसके बाद मंगल ,  इसके बाद बृहस्पति , इसके बाद शनि , एवं इसके बाद अरुण जिसे यूरेनस कहते हैं एवं वरुण जैसे नेप्च्यून कहते हैं।

.

Share This Article
Follow:
News Reporter Team
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha