राजस्थान का मिनी खजुराहो किसे कहते हैं ? जानिए पुरी जानकारी ( Mini Khajuraho Rajasthan )

राजस्थान का मिनी खजुराहो किसे कहते हैं ? जानिए पुरी जानकारी ( Mini Khajuraho Rajasthan ) आपको बता दें कि राजस्थान का खजुराहो राजस्थान के…

राजस्थान का मिनी खजुराहो किसे कहते हैं ?

जानिए पुरी जानकारी ( Mini Khajuraho Rajasthan )

आपको बता दें कि राजस्थान का खजुराहो राजस्थान के बाड़मेर में स्थित किराडू के मंदिर को कहा जाता है , नहीं राजस्थान का मिनी खजुराहो राजस्थान के बारां जिले के रामगढ़ कस्बे के पास में स्थित प्राचीन भंडदेवरा शिव मंदिर को राजस्थान का मिनी खजुराहो कहा जाता है ।

राजस्थान का मिनी खजुराहो बारां जिले के रामगढ़ कस्बे के पास स्थित है ।

अगर इस मंदिर की वर्तमान स्थिति की बात की जाए तो काफी दयनीय स्थिति है और यहां के मंदिर खंडहर के रूप में परिवर्तित होने जा रहे हैं।

आपको बता दें कि राजस्थान के मिनी खजुराहो भंडदेवरा शिव मंदिर में विशेष बेजोड़ शिल्प एवं अनोखी परंपरा देखने को मिलती है।

आपको बता दें कि यह मंदिर करीब 1150 ईसवी के आसपास बनाया गया था और इसे नाग वंश के शासक मल्यार्जून वर्मा ने अपने किसी युद्ध में विजय होने के बाद बनाया था। यह मंदिर 12 जिले के मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। एवं महाशिवरात्रि के दिन आदिवासी जाति के लोग यहां पर पहुंचकर नृत्य व गायन का प्रोग्राम करते हैं। एवं भगवान शिव को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं । आपको बता दिया कि यहां पर विशेषकर सहरिया जनजाति के लोग शिवरात्रि के अवसर पर पूजा अर्चना करने के लिए आते हैं।

जानकारी के अनुसार पिछले कुछ वर्षों में यहां से अनूठी शिल्प कला की मूर्तियां चोरी हो चुकी है , बताया जा रहा है कि सरकार को यहां पर विशेष ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है , लेकिन यहां पर स्थानीय प्रशासन भी कोई नजर नहीं रख रहा है ‌‌।

वहीं राजस्थान का खजुराहो किराडू के मंदिरों को कहा जाता है जो कि राजस्थान के सीमावर्ती जिले बाड़मेर में स्थित है। यह मंदिर प्रतिहार शासकों के समय बनाए गए थे एवं इन मंदिरों की भी अनूठी शिल्प कला है।