किस दिन किस दिशा में नहीं जाना चाहिए ? जानिए पूरी जानकारी , क्या कहता है ज्योतिष

किस दिन किस दिशा में नहीं जाना चाहिए ? जानिए पूरी जानकारी , क्या कहता है ज्योतिष किस दिशा में......

- Advertisement -

किस दिन किस दिशा में नहीं जाना चाहिए ? जानिए पूरी जानकारी , क्या कहता है ज्योतिष 

किस दिशा में किस दिन को जाना चाहिए , किस दिन को किस दिशा में यात्रा करनी चाहिए

हिंदू धर्म की मान्यताओं के मुताबिक अलग अलग दिशाओं में यात्रा करने से पहले ज्योतिषी के मुताबिक किस दिशा में यात्रा वर्जित है यह जानकर उस दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए।

हिंदू धर्म के ज्योतिषी के मुताबिक अगर आप पूर्व दिशा में यात्रा करना चाहते हैं तो सोमवार एवं शनिवार के दिन पूर्व दिशा में यात्रा करना वर्जित है , इसी तरीके से अगर आप अग्नि कोण यानी कि दक्षिण- पूर्व दिशा में यात्रा करना चाहते हैं तो सोमवार एवं प्रेस पति वार के दिन इस दिशा में यात्रा करना वर्जित है।

अगर आप दक्षिण दिशा में यात्रा करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन दक्षिण दिशा में यात्रा करना वर्जित है एवं दक्षिण- पश्चिम दिशा में यात्रा करने के लिए रविवार एवं शुक्रवार वर्जित है, यानी कि इन दिनों में इस दिशा को यात्रा नहीं करनी चाहिए।

अगर पश्चिम दिशा में यात्रा करनी है तो रविवार एवं शुक्रवार का दिन वर्जित माना जाता है एवं उत्तर -पश्चिम दिशा में यात्रा करने के लिए मंगलवार का दिन अशुभ माना जाता है।

इसी तरीके से उत्तर दिशा में यात्रा करने के लिए मंगलवार एवं बुधवार का दिन वर्जित माना जाता है ‍, यानी कि मंगलवार एवं बुधवार के दिन उत्तर दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए एवं उत्तर-पूर्व दिशा माने कि ईशान कोण में यात्रा करने के लिए बुधवार एवं शनिवार के दिन को वर्जित माना गया है।

यह भी पढ़ें 4 स्मार्टफोन में एक साथ चला पाएंगे व्हाट्सएप , 2 से ज्यादा मोबाइल में एक साथ व्हाट्सएप कैसे चलाएं

धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक इन दिनों उपयुक्त दिशाओं में यात्रा करने से बचना चाहिए , वही धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक अगर  में यात्रा करना अति आवश्यक है तो 5 कदम पीछे की ओर चलने के बाद यात्रा को प्रारंभ करें ऐसा करने से इसका वर्जित दिशाओं में जाने का असर कम होता है।

.

Share This Article
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
राहुल गांधी ने शादी को लेके कही बड़ी बात, जानिए कब हैं राहुल गांधी की शादी रविंद्र सिंह भाटी और उम्मेदाराम बेनीवाल ने मौका देखकर बदल डाला बाड़मेर का समीकरण Happy Holi wishes message राजस्थान में मतदान संपन्न, 3 दिसंबर का प्रत्याशी और मतदाता कर रहे इंतजार 500 का नोट छापने में कितना खर्चा आता है?, 500 ka note banane ka kharcha