किसान आंदोलन की ढाल बनेंगे निहंग सिख, दिल्ली कूच पर आंदोलनकारियों का देंगे साथ

निहंग सिख

किसान आंदोलन की ढाल बनेंगे निहंग सिख, दिल्ली कूच पर आंदोलनकारियों का देंगे साथ

एमएसपी एवं कर्ज माफी को लेकर पिछले कई दिनों से किसान दिल्ली जाने को लेकर अड़े हुए हैं, लेकिन सरकारों ने किसानों को बीच रास्ते में ही रोक लिया है।

अब किसानों को दिल्ली पहुंचने में निहंग सिख किसानों की सहायता करेंगे, निहंग सिख कौन होते है?

निहंग सिखों के हाथ में भाला एवं ढाल लेकर सिर पर पगड़ी पहनना इनकी पहचान हैं।

13 फरवरी से हरियाणा एवं पंजाब के कई किसान संगठन लगातार आंदोलन कर रहे हैं एवं दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन पुलिस की कड़ी सुरक्षा के चलते किसान दिल्ली में प्रवेश नहीं कर पा रहे हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक का निहंगो में से एक शेर सिंह ने सिखों के आध्यात्मिक नेता का जिक्र करते हुए कहा गुरु गोविंद सिंह ने उपदेश दिए हैं कि सिखों को अन्याय एवं उत्पीड़न से लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए।

निहंग राजा राम सिंह ने कहा कि सरकारी ये ना सोचें कि वह किसानों को डरा सकते हैं, यह पंजाब है और हम किसानों के साथ एक एकजुटता से खड़े हैं।

निहंग सिख

हरियाणा पुलिस ने दावा किया है कि किसान नेता लगातार कानून व्यवस्था तोड़ रहे हैं और वह अशांति फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।

हालांकि पुलिस की ओर से सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने एवं पुलिस पर पथराव करने का मामला दर्ज करवाया गया है, पुलिस ने कहा है कि सरकारी संपत्ति के नुकसान के भरपाई किसान नेताओं से की जाएगी।

यह भी पढ़ें बागपत चाट युद्ध क्या हैं Baghpat Chat Yuddh kya hain

गुरुवार रात एक किसान की तबीयत खराब होने के बाद उसकी मृत्यु हो गई एवं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वह किसान अपने सिर पर 8 लाख रुपए का कर्ज लेकर इस आंदोलन में शामिल हुए थे, मृतक किसान का नाम दर्शन सिंह है एवं यह बठिंडा के अमरगढ़ गांव के रहने वाले हैं।

हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें Really Bharat पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट रियली भारत पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

Share this post:

Related Posts