महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर नाथूराम गोडसे जिंदाबाद ट्रैंड …..

News Bureau

आज ही के दिन यानी कि 30 जनवरी 1948 को देश के राष्ट्रपिता कहे जाने वाले महात्मा गांधी की नाथूराम गोडसे द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी जाती है।

Contents
आज ही के दिन यानी कि 30 जनवरी 1948 को देश के राष्ट्रपिता कहे जाने वाले महात्मा गांधी की नाथूराम गोडसे द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी जाती है।लेकिन महात्मा गांधी की जयंती या पुण्य तिथि पर हर बार युवाओं के एक वर्ग द्वारा नाथूराम गोडसे का समर्थन किया जाता है , महात्मा गांधी की पिछली जयंती 2 अक्टूबर 2021 को भी सोशल मीडिया के सबसे पॉपुलर ऐप ट्विटर पर नाथूराम गोडसे जिंदाबाद ट्रेंडिंग में रहा था। वहीं महात्मा गांधी की पुण्यतिथि 30 जनवरी को भी नाथूराम गोडसे देश में ट्विटर के ट्रेंड में शामिल है।लेकिन बड़ा सवाल यह है कि युवा वर्ग द्वारा महात्मा गांधी का विरोध क्यों किया जाता है ? , जब हमने इस कारण को जानने की कोशिश की ‌‌‌‌‌तो हमें मुख्य वजह यह मिली की महात्मा गांधी गरम दल के नेताओं सुभाष चंद्र बोस , भगत सिंह एवं अन्य क्रांतिकारियों का विरोध किया करते थे , महात्मा गांधी मानते थे कि अहिंसा सर्वोपरि है। और गांधी जी कभी भी हिंसा का समर्थन नहीं किया करते थे । इसी वजह से महात्मा गांधी को अहिंसा का पुजारी कहते हैं।लेकिन वर्तमान में युवाओं का समय महात्मा गांधी के इस निर्णय का विरोध कर रहा है। और भगत सिंह , सुभाष चंद्र बोस व चंद्रशेखर आजाद की मौत की वजह गांधीजी को मानते हैं। इसी वजह से लोग महात्मा गांधी से संबंधित पर्व पर उनका विरोध करते हैं।राहुल गांधी ने महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर ट्वीट करते हुए बताया कि हिंदुत्ववादी व्यक्ति ने महात्मा गांधी की हत्या की।क्या होता है ट्विटर ट्रेंड‍ ?जनता द्वारा किसी भी आवाज को उठाने के लिए ट्विटर सबसे बेहतरीन सोशल मीडिया ऐप है अगर कोई व्यक्ति हैज ( # ) टैग का प्रयोग करते हुए कोई भी वाक्य लिखते हैं और वही वाक्य देश के अधिकतर ट्विटर यूजर लिखते हैं तो वह वाक्य ट्विटर के ट्रेंडिंग में सबसे शीर्ष स्तर पर आ जाता है।

लेकिन महात्मा गांधी की जयंती या पुण्य तिथि पर हर बार युवाओं के एक वर्ग द्वारा नाथूराम गोडसे का समर्थन किया जाता है , महात्मा गांधी की पिछली जयंती 2 अक्टूबर 2021 को भी सोशल मीडिया के सबसे पॉपुलर ऐप ट्विटर पर नाथूराम गोडसे जिंदाबाद ट्रेंडिंग में रहा था। वहीं महात्मा गांधी की पुण्यतिथि 30 जनवरी को भी नाथूराम गोडसे देश में ट्विटर के ट्रेंड में शामिल है।

लेकिन बड़ा सवाल यह है कि युवा वर्ग द्वारा महात्मा गांधी का विरोध क्यों किया जाता है ? , जब हमने इस कारण को जानने की कोशिश की ‌‌‌‌‌तो हमें मुख्य वजह यह मिली की महात्मा गांधी गरम दल के नेताओं सुभाष चंद्र बोस , भगत सिंह एवं अन्य क्रांतिकारियों का विरोध किया करते थे , महात्मा गांधी मानते थे कि अहिंसा सर्वोपरि है। और गांधी जी कभी भी हिंसा का समर्थन नहीं किया करते थे । इसी वजह से महात्मा गांधी को अहिंसा का पुजारी कहते हैं।

लेकिन वर्तमान में युवाओं का समय महात्मा गांधी के इस निर्णय का विरोध कर रहा है। और भगत सिंह , सुभाष चंद्र बोस व चंद्रशेखर आजाद की मौत की वजह गांधीजी को मानते हैं। इसी वजह से लोग महात्मा गांधी से संबंधित पर्व पर उनका विरोध करते हैं।

राहुल गांधी ने महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर ट्वीट करते हुए बताया कि हिंदुत्ववादी व्यक्ति ने महात्मा गांधी की हत्या की।

क्या होता है ट्विटर ट्रेंड‍ ?

जनता द्वारा किसी भी आवाज को उठाने के लिए ट्विटर सबसे बेहतरीन सोशल मीडिया ऐप है अगर कोई व्यक्ति हैज ( # ) टैग का प्रयोग करते हुए कोई भी वाक्य लिखते हैं और वही वाक्य देश के अधिकतर ट्विटर यूजर लिखते हैं तो वह वाक्य ट्विटर के ट्रेंडिंग में सबसे शीर्ष स्तर पर आ जाता है।

 

Share This Article
Follow:
News Reporter Team